पीसीबी से मुकदमे का खर्चा वसूलने के लिए 'मामला' दायर करेगा बीसीसीआई - news4me.in

news4me.in

news4me website brings you the latest News and Videos from the news4me Studios in India. Stay tuned to the latest News stories from India and the World. Access videos and photos on your device with the news4me website.

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Wednesday, November 21, 2018

पीसीबी से मुकदमे का खर्चा वसूलने के लिए 'मामला' दायर करेगा बीसीसीआई

बीसीसीआई अब पीसीबी से मुकदमे का खर्चा वसूलने के लिए विवाद निवारण पैनल की शरण में जाएगा.


बीसीसीआई ने मंगलवार को कहा कि वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद द्वारा द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेलने पर भारत के खिलाफ पाकिस्तान के मुआवजे के दावे को खारिज किए जाने के बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से मुकदमे का खर्च वसूलने के लिए आईसीसी की विवाद निवारण समिति (Disputes Resolutions Committee) के समक्ष मामला दायर करेगा.

आईसीसी की विवाद निवारण समिति ने भारत के खिलाफ पाकिस्तान के दावे को खारिज कर दिया. पीसीबी ने बीसीसीआई पर द्विपक्षीय सीरीज पर एमओयू का सम्मान नहीं करने का आरोप लगाया था.
बीसीसीआई ने बयान में कहा, ‘दुबई में तीन दिन तक दोनों पक्षों के साक्ष्य और जिरह पर सुनवाई के बाद, विवाद निवारण समिति ने पीसीबी के सभी दावे खारिज कर दिए और बीसीसीआई के पक्ष को स्वीकार किया जो इस आधार पर था कि बीसीसीआई का पत्र बाध्यकारी नहीं था और यह सिर्फ खेलने की इच्छा जताई गई थी.’

बयान के अनुसार कहा, ‘बीसीसीआई तहेदिल से विवाद निवारण समिति के फैसले का स्वागत करता है. बीसीसीआई अब पीसीबी से मुकदमे का खर्चा वसूलने के लिए विवाद निवारण पैनल की शरण में जाएगा.’

पूर्व अध्‍यक्ष अनुराग ठाकुर ने किया स्‍वागत
भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के खिलाफ पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के 447 करोड़ रुपये के मुआवजे के दावे को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के खारिज करने के फैसले का पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने मंगलवार को स्वागत किया.

पूर्व बीसीसीआई अध्‍यक्ष ठाकुर ने कहा, 'मैं आईसीसी के इस फैसले का स्वागत करता हूं, क्योंकि बीसीसीआई से पीसीबी की मुआवजे की मांग एकदम बेतुकी थी.'
उन्होंने कहा, 'भारत से द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज को लेकर मुआवजा मांगने के बजाय पाकिस्तान को इस बात पर ध्यान देना चाहिये कि दोनों देशों के आपसी संबंध किस तरह बेहतर हो सकते हैं. पाकिस्तान को भारत विरोधी आतंकवादी घटनाओं पर रोक लगानी चाहिये. उसे अपनी सीमा से भारत में आतंकी घुसपैठ कराने का सिलसिला बंद करना चाहिये.'

पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष ने उम्मीद जतायी कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान खासकर पूर्व क्रिकेटर होने के नाते अपनी ओर से प्रयास करेंगे कि भारत के खिलाफ आतंकी गतिवधियों पर रोक लगाते हुए द्विपक्षीय माहौल सुधारा जाये.

गौरतलब है कि द्विपक्षीय सीरीज से जुड़े सहमति पत्र (एमओयू) का सम्मान नहीं करने का आरोप लगाते हुए पीसीबी ने अपने दावे के तहत बीसीसीआई से 447 करोड़ रुपये के मुआवजे की मांग की थी. इस एमओयू के तहत भारत को वर्ष 2015 से 2023 के बीच पाकिस्तान से छह द्विपक्षीय सीरीज खेलनी थीं

from Latest News क्रिकेट News18 हिंदी https://ift.tt/2znXrAl

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here